Bihar Board 75% Attendance : बिहार बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा में 75% उपस्थिति अनिवार्य, जाने पूरी जानकारी

Bihar Board 75% Attendance : बिहार बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा में 75% उपस्थिति अनिवार्य, जाने पूरी जानकारी

Bihar Board 75% Attendance :

दोस्तों आज हम बताएंगे बिहार बोर्ड के 10 और 12वीं कक्षा में 75 पर्सेंट उपस्थित अनिवार्य है। इस आर्टिकल में अंतिम तक जरूर बन रहे क्योंकि यह आपके लिए बहुत ही लाभदायक है। आप भी अपने कक्षा में उपस्थित होने से कतराते हैं तो आप बहुत बड़ी गलती कर रहे हैं। क्योंकि बिहार बोर्ड ने इसको लेकर नई आदेश जारी किया है। आए जानते हैं बिस्तर रूप से।आपको बता दें कि, Bihar Board 75% Attendance Compulsory New Update के मुताबिक बिहार बोर्ड द्वारा सख्त आदेश जारी किया गया है कि अगर आपकी कक्षा में 75% उपस्थिति नहीं पाई गई तो आप बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ किसी भी छात्रवृत्ति योजना का लाभ लेने से भी वंचित रह जाएंगे।

WhatsApp Group Join Now

बिहार बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा में 75% उपस्थिति अनिवार्य, जाने पूरी जानकारी

हम जानते हैं की बिहार में शिक्षा की स्थिति दिन पर दिन गिरते ही जा रही है, जिसके कारण बिहार के बच्चों को उच्च शिक्षा और गुणवत्ता वाले शिक्षा नहीं मिल पा रही है। जिसके कारण बिहार में बेरोजगारी भी बढ़ रही है। ओर यही सब देखते हुए हाल ही में बिहार बोर्ड द्वारा कक्षाओं में उपस्थिति को लेकर नई अपडेट जारी किया गया है। 

75% से कम उपस्थिति वाले विद्यार्थी नहीं दे पाएंगे, 2024 की बोर्ड परीक्षा:-

यह योजना के अन्तर्गत मैट्रिक व इंटर के सभी  छात्र छात्राओं को कम से कम 75% उपस्थिति पूरा करना अनिवार्य होना चाहीए।आगर कोई भी छात्र-छात्राओ 75% से कम उपस्थिति पाई गई तो उन्हें बिहार बोर्ड परीक्षा, 2024 में बैठने नहीं दिया जाएगा।

इस संबंध में बिहार बॉर्ड ने सभी जिलाधिकारी (डीएम), क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक, जिला शिक्षा कार्यालय और प्राचार्यों (प्रिंसिपल) को आदेश दिया है। बता दें कि, सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड में यह नियम पहले से अनिवार्य है, लेकिन बिहार बोर्ड में अभी तक 75 फीसदी उपस्थिति की कोई बाध्यता नहीं थी।इस वजह से विधार्थी क्लास करने नहीं जाते थे और ट्यूशन के जरिये ही तैयारी करते थे।

निरीक्षण के दौरान 10वीं और 12वीं कक्षा में  छात्र और छात्राओं के अनुपस्थित।

कुछ समय पहले ही बिहार बोर्ड द्वारा कई स्कूलों में स्पेशल लिस्ट किया गया है और यह पाया गया है कि अधिकांश 10वीं और 12वीं कक्षाएं पूरी तरह से खाली थी और इसके लिए बिहार बोर्ड ने नया उद्देश्य जारी किया है किसी भी छात्र या छात्राओं का उपस्थित 75% से कम पाई जाती है तो वह बोर्ड परीक्षा में बैठने योग्य नहीं माना जाएगा और उन्हें बोर्ड परीक्षा से निष्कासित कर दिया जाएगा।

Disclaimer:- हमारे द्वारा दिया गया यह जानकारी हम और हमारी टीम आप तक पहुंचाती है हमारा उद्देश्य है शिक्षा जानकारी, सरकारी योजना, लेटेस्ट जॉब तथा डेली अपडेट से जुड़ी जानकारी आप तक पहुंचाना है, जिससे आप इसके बारे में अच्छी तरह जान सके, इससे जुड़ा कोई भी निर्णय आपका अंतिम निर्णय होगा इसमें हम और हमारी टीम का कोई भी सदस्य जिम्मेदार नहीं होगा।

धन्यवाद

 

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp Group Join Now
Scroll to Top