Pradhanmantri Kisan Mandhan Yojana:प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना में बड़ा खुलासा यहां से देखें पूरी जानकारी। 

Pradhanmantri Kisan Mandhan Yojana:प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना में बड़ा खुलासा यहां से देखें पूरी जानकारी।

Pradhanmantri Kisan Mandhan Yojana:

यह योजना को किसान पेंशन योजना भी कहा जाता है | इस किसान पेंशन योजना 2023 के अंतर्गत आवेदन करने वाले लाभार्थियों की आयु 18 से 40 वर्ष ही होनी ही चाहिए | केंद्र सरकार अभी तक  5 करोड़ छोटे और सीमांत किसानो को इस योजना के अंतर्गत शामिल करेगी | इस Kisan Mandhan Yojana का लाभ उन लाभार्थियों को भी दिया जायेगा जिसके पास 2 हेक्टेयर या इससे कम की कृषि योग्य भूमि होगी | इस योजना के तहत अगर लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थी की किसी कारण वश मृत्यु हो जाती है तो लाभार्थी की पत्नी को प्रतिमाह 1500 रूपये दिए जायेगे |

WhatsApp Group Join Now

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना प्रीमियम का भुगतान ।

किसान पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले लाभार्थियों को हर महीने प्रीमियम भी देना होगा | 18 वर्ष की आयु वाले लाभार्थियों को हार महीने 55 रूपये के प्रीमियम का भुगतान करना होगा तथा 40 वर्ष की आयु वाले लाभार्थियों को 200 रूपये का प्रीमियम का भुगतान करना होगा । तभी वह इस योजना का लाभ 60 की आयु पूरी होने पर उठा सकते है | PM Kisan Mandhan Yojana 2023 के तहत लाभार्थी का बैंक अकॉउंट होना चाहिए तथा बैंक अकॉउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए | इस योजना के अंतर्गत बुढ़ापे में दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकॉउंट में पंहुचा दी जाएगी।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2023 का उद्देश्य।

इस योजना के कुछ मुख्य उद्देश्य है देश के छोटे और सीमेंट किसानों को सरकार द्वारा 60 साल की आयु के बाद ₹3000 की मासिक पेंशन देकर आर्थिक सहायता प्रदान की है उनके बुढ़ापे की जरूरतों को पूरा करती हैं। प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2023 के अंतर्गत देश के किसानो को बुढ़ापे में आत्मनिर्भर बनाना और भूमिहीन किसानो को सशक्त बनाना ।PM Kisan Mandhan Yojana के तहत किसानो को सामाजिक सुरक्षा प्रदना करने और उनके जीवन सुरक्षित करना और देश के किसानो का विकास करना, उन्हें मज़बूत बनाना। यही इस योजना का महत्वपूर्ण लक्ष्य है ।

कौन–कोन इस योजना के पात्र नहीं हो सकते हैं।

कोई भी दूसरे सामाजिक  सुरक्षा योजनाओं जैसे राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस), कर्मचारी राज्य बीमा निगम योजना, कर्मचारी कोष संगठन योजना इत्यादि के तहत शामिल होना चाहिए ।श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा प्रधान मंत्री श्रम योगी योग योजना और प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के लिए चुने गए किसान।उच्च आर्थिक स्थिति के लाभार्थियों की निम्नलिखित श्रेणियां योजना के तहत लाभ के लिए पात्र नहीं होंगी ।सभी संस्थागत भूमि धारकसं वैधानिक पदों के पूर्व और वर्तमान धारक

पेंशन योजना को छोड़ने पर लाभ

आगर कोई पात्र ग्राहक इस योजना को उसके द्वारा योजना में शामिल होने की तिथि से दस वर्ष से कम अवधि के भीतर निकालता है, तो उसके द्वारा केवल अंशदान का अंशदान देय ब्याज की बचत बैंक दर के साथ उसे वापस कर दिया जाएगा।अगर किसी पात्र ग्राहक ने नियमित योगदान दिया गया है और किसी के कारण से उसकी मृत्यु हो जाती है, तो उसकी जीवनसाथी (पत्नी)इस योजना के अन्तर्गत नियमित रूप से योगदान के भुगतान को जारी रखने का हकदार होगी, जैसा कि लागू होता है, या फिर संचित ब्याज के साथ ऐसे ग्राहक के द्वारा दिए गए योगदान का हिस्सा प्राप्त करके बाहर निकलता जाते है, जैसा कि वास्तव में पेंशन फंड के द्वारा या बचत बैंक ब्याज दर पर प्राप्त किया गया है, जो भी अधिक हो।

यदि कोई पात्र ग्राहक उसके द्वारा योजना में शामिल होने की तिथि से 10 वर्ष या उससे भी अधिक की अवधि पूरी होने के बाद बाहर निकल जाता है, लेकिन उसकी 60 वर्ष की आयु से पहले,हो तो उसके अंशदान की राशि उसके साथ ही उसे वापस लौटाई दी जाती है, क्योंकि उसके पास वास्तव में संचित ब्याज है। पेंशन फंड या बचत बैंक की ब्याज दर से अर्जित किया गया, जो भी अधिक हो।

Disclaimer:- हमारे द्वारा दिया गया यह जानकारी हम और हमारी टीम आप तक पहुंचाती है हमारा उद्देश्य है शिक्षा जानकारी, सरकारी योजना, लेटेस्ट जॉब तथा डेली अपडेट से जुड़ी जानकारी आप तक पहुंचाना है, जिससे आप इसके बारे में अच्छी तरह जान सके, इससे जुड़ा कोई भी निर्णय आपका अंतिम निर्णय होगा इसमें हम और हमारी टीम का कोई भी सदस्य जिम्मेदार नहीं होगा।

धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp Group Join Now
Scroll to Top